Two Line Shayari

Two Line Shayari Hindi

Read the latest collection of short 2 Line Shayari, SMS and Status in Hindi. All these Heart Touching Two Line Shayari (दो लाइन शायरी) boasts many emotions in the heart with very few words. So read and feel the deep feelings of these 2 liner shayaris. If you like these shayari in two lines, leave a positive feedback/comment.

Main Khali Haath Aaya Hoon

भरे बाजार से अक्सर मैं खाली हाथ आया हूँ,
कभी ख्वाहिश नहीं होती कभी पैसे नहीं होते।

Bhare Bazaar Se Aksar Main Khali Haath Aaya Hoon,
Kabhi Khwahish Nahi Hoti Kabhi Paise Nahi Hote.

तलब करें तो मैं अपनी आँखें भी उन्हें दे दूँ,
मगर ये लोग मेरी आँखों के ख्वाब माँगते हैं।

Talab Karein To Main Apni Aankhein Bhi Unhe De Du,
Magar Ye Log Meri Aankhon Ke Khwab Maangte Hain.

बेगुनाह कोई नहीं गुनाह सबके राज़ होते हैं,
किसी के छुप जाते हैं, किसी के छप जाते हैं।

Be-Gunaah Koi Nahi, Gunaah Sabke Raaz Hote Hain,
Kisi Ke Chhup Jate Hain Kisi Chhap Jate Hain.

शहर में सबको कहाँ मिलती है रोने की जगह,
अपनी इज़्ज़त भी यहाँ हँसने हँसाने से रही।

Shaher Mein Sabko Kahan Milti Hai Rone Ki Jagah,
Apni Izzat Bhi Yehan Hansne Hansaane Se Rahi.

मंजिलें होती हैं कुछ ऐसी कि जिनकी राह में,
दम निकल जाए अगर तो फख्र की ही बात है।

Manzilein Hoti Hain Kuchh Aisi Ke Jinki Raah Mein,
Dam Nikal Jaaye Agar To Fakhr Ki Hi Baat Hai.

Roshan Deeya

मैं एक शाम जो रोशन दीया उठा लाया,
तमाम शहर कहीं से हवा उठा लाया।

Main Ek Shaam Jo Roshan Deeya Uthha Laya,
Tamaam Shahar Kahin Se Hawa Uthha Laya.

नजरों में दोस्तों की जो इतना खराब है,
उसका कसूर ये है कि वो कामयाब है।

Najron Mein Doston Ki Jo Itna Kharab Hai,
Uska Qasoor Ye Hai Ki Wo Kaamyab Hai.

Shayar Banaa Gaya Mujhko

सितम तो ये है कि ज़ालिम सुखन-सनास नहीं,
वो एक शख्स जो शायर बना गया मुझको।

Sitam To Ye Hai Ke Zalim Sukhan-Sanaas Nahin,
Wo Ek Shakhs Jo Shayar Banaa Gaya Mujhko.

किसी ने मुझसे पूछा ज़िन्दगी कैसे बर्बाद हुई,
मैंने ऊँगली उठायी और मोबाइल पर रख दी!

Kisi ne mujhase puchaa zindagi kaise barbad huyi,
maine ungali uthayi aur mobile par rakh dee.

रात सुकूँ है दिल को बेकरार न कर,
बिना सोचे किसी पर ऐतबार न कर.!

Raat sukoon hai dil ko bekarar na kar,
bina soche kisi par aitabar na kar..

Leave a Comment